Investor Meaning in Hindi | इन्वेस्टर क्या होता है और इन्वेस्टर कैसे बनें?

Investor Meaning in Hindi | इन्वेस्टर का क्या मतलब होता है | Niveshak meaning in hindi | Types of Investor in hindi | निवेशक किसे कहते हैं | Investor kaise bane | How to become intelligent investor in hindi

आखिर Investor kya hota hai? इन्वेस्टर मतलब निवेशक वो लोग होते हैं जो अपने पैसों को अपने कंपनीज, bond, रियल एस्टेट और ऐसे इन्वेस्टमेंट opportunities में इन्वेस्ट करते हैं जिनकी भविष्य में ग्रोथ होने वाली है ताकि उन्हें लॉन्ग टर्म financial gain मिल सके, मतलब अपने पैसों पर मैक्सिमम रिटर्न मिल सके।

आज इस पोस्ट में हम इन्वेस्टर कौन होता है, इन्वेस्टर क्या करता है, इन्वेस्टर कितने प्रकार के होते हैं और एक सफल इन्वेस्टर कैसे बनते हैं इन पर चर्चा करेंगे.

तो आइए सबसे पहले जान लेते हैं इन्वेस्टर का हिंदी मीनिंग क्या होता है?

इस पोस्ट में आप जानेंगे-

Investor Meaning in Hindi

Investor Meaning in Hindi
Investor Meaning in Hindi – निवेशक का अर्थ

इन्वेस्टर का हिंदी अर्थ होता है निवेशक. ये वह व्यक्ति होता है जो किसी कंपनी या व्यापार में पैसा निवेश करता है ताकि भविष्य में उसे अपने पैसे पर अच्छे रिटर्न मिल सके। Investor का मकसद होता है इन्वेस्टमेंट करके अपने पैसे को grow करना.

और इन्वेस्टमेंट की बात करें तो वह केवल कंपनियों या बिजनेस में ही नहीं बल्कि रियल एस्टेट, bond या नए स्टार्टअप (startup) में भी एक Angel Investor के तौर पर पैसा लगाना पसंद करता है।

कहने का मतलब है कि एक इन्वेस्टर केवल अपने पैसे को बढ़ाना चाहता है और उसके लिए वह अलग-अलग जगह अपने पैसों को निवेश करता है। आसान शब्दों में कहें, तो इन्वेस्टर वह व्यक्ति होता है जो पैसे से पैसा कमाता है। उम्मीद करता हूं आप Investor Meaning in Hindi समझ गए होंगे।

इन्वेस्टर क्या है – What is Investor in Hindi?

इन्वेस्टर एक निवेशक है जो किसी कंपनी के शेयर खरीद कर यानी लॉन्ग टर्म इन्वेस्टिंग के जरिए अपने पैसे को बढ़ाने पर फोकस करता है। इनका मकसद financial freedom और financial security के लिए passive income के जरिये अपने फ्यूचर को secure बनाना होता है।

इन्वेस्टर बहुत इंटेलिजेंट व्यक्ति होता है जिसे business और investing की अच्छी समझ होती है।

जब कोई इन्वेस्टर शेयर मार्केट में या कहीं पर पैसा निवेश करता है तो वह market research करता है और इन्वेस्टमेंट के सभी फैक्टर्स को ध्यान से देखकर आखिर में खुद की due diligence का उपयोग करके investment decision लेता है।

एक investor को हमेशा प्रॉफिट ही नहीं होता बल्कि कई बार उसे नुकसान (loss) भी होता है क्योंकि मान लीजिए अगर उसने किसी कंपनी में पैसा इन्वेस्ट कर दिया और भविष्य में वह कंपनी अच्छा परफॉर्म नहीं कर पाई या अच्छी ग्रोथ नहीं दिखा पाई

या फिर वह कंपनी डूब गई तो जिन लोगों ने उस कंपनी में पैसा लगाया था उनका पैसा भी डूब जाएगा और इसका खामियाजा उस कंपनी के शेयरहोल्डर और इन्वेस्टर्स को भुगतना पड़ेगा।

ऐसा तब होता है जब कोई इन्वेस्टर–

  • गलत कंपनी में पैसा लगा देता है,
  • इंडस्ट्री की ग्रोथ रुक जाती है,
  • वह बिजनेस ही पैसे नहीं कमा पाता है,
  • जब आपने कंपनी के बिजनेस मॉडल को ढंग से नहीं समझा होता है,
  • जब मैनेजमेंट ही फ्रॉड करने लगता है,
  • किसी ऐसी कंपनी में पैसा लगा देता है जो एक declining industry में काम करती है,

कहने का मतलब है कि अगर एक investor ने समझदारी से पैसा निवेश नहीं किया तो उसे काफी loss हो सकता है

इसीलिए जब भी कोई इन्वेस्टर किसी कंपनी में पैसा निवेश करता है तो वह–

  • उस कंपनी का पूरा analysis करता है,
    फ्यूचर प्रोस्पेक्ट्स देखता है
  • भविष्य के लिहाजे से बिजनेस को देखता है
  • कंपनी भविष्य में कितना ग्रो कर सकती है इसका पता लगाता है,
  • कंपनी के पिछले ट्रैक रिकॉर्ड देखता है,
  • वह फोकस करता है कि कंपनी कैसी अपना बिजनेस और sales यानि Revenue बढ़ाएगी।

इसके अलावा एक इनवेस्टर को market trend और global economic condition से अपडेट रहना पड़ता है ताकि वह भविष्य में ग्रोथ करने वाले बिजनेस को पहचान सके और पैसा इन्वेस्ट करके maximum return कमा सके।

इन्वेस्टर का उदाहरण (Example of Investor in Hindi)

अगर आपने टीवी शो ‘शार्क टैंक इंडिया’ देखा होगा तो आपको पता होगा कि सभी सार्क अलग-अलग कंपनियों में पैसा इन्वेस्ट करते हैं जिसके बदले में वह उन कंपनियों के फाउंडर से इक्विटी लेते हैं मतलब उन कंपनियों में कुछ प्रतिशत (%) की हिस्सेदारी लेते हैं, तो जो जज यानी shark होते हैं मतलब जो पैसा लगाते हैं उनको ही हम Investor (निवेशक) कहते हैं।

  • आपने दुनिया के सबसे बड़े और सबसे अमीर इन्वेस्टर Warren Buffet का नाम जरूर सुना होगा जिन्होंने अपनी पूरी wealth स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट करके ही कमाई है और आज यह सबसे सक्सेसफुल इन्वेस्टर है.

अगर इंडिया के बात करें तो राकेश झुनझुनवाला जो अब नहीं रहे जिन्होंने टाइटन कंपनी में उस समय पैसा इन्वेस्ट किया था जब उसमें कोई भी इस कंपनी में पैसा इन्वेस्ट करने को तैयार नहीं था। और आज उनकी आधी से ज्यादा संपत्ति (wealth) सिर्फ इसी कंपनी (Titan) में पैसा इन्वेस्ट करने के कारण बनी हुई है इसलिए वह इंडिया के सबसे सफल इन्वेस्टर माने जाते हैं।

इसके अलावा इंडिया में रामदेव अग्रवाल और विजय केडिया जैसे अन्य सफल इन्वेस्टर भी हैं।

इन्वेस्टर कितने प्रकार के होते हैं (Types of Investor in Hindi)

निवेशक के प्रकार (Type of investor in hindi)

  1. Retail Investor – खरीदारी निवेशक
  2. Institutional Investor – संस्थागत निवेशक
  3. Angel Investor – एंजेल निवेशक
  4. Venture Capitalist – वेंचर शेयर प्रबंधक
  5. High Net Worth Individuals (HNWIs) – उच्च नेट वर्थ इंडिविडुअल्स
  6. Passive Investor – निष्क्रिय निवेशक
  7. Active Investor – सक्रिय निवेशक
  8. Day Traders – दिन व्यापारी
  9. Value Investor – मूल्य निवेशक
  10. Growth Investor – वृद्धि निवेशक
  11. Income Investor – आमदनी निवेशक
  12. Speculative Investor – अनुमानित निवेशक
  13. Real Estate Investor – मालिकाना निवेशक
  14. Hedge Fund Investor – हेज फंड निवेशक

आईए इन सभी प्रकार के इन्वेस्टर्स के बारे में एक-एक करके जान लेते हैं–

1. Retail Investor Meaning in Hindi

रिटेल इन्वेस्टर किसे कहते हैं? ये व्यक्तिगत निवेशक होते हैं जो अपने व्यक्तिगत वित्तीय लक्ष्यों के लिए शेयर बाजार, म्यूचुअल फंड, बॉन्ड, रियल एस्टेट या कोई और निवेश अवसर में निवेश करते हैं। खुदरा निवेशक कोई भी वेतनभोगी व्यक्ति (salaried person) हो सकते हैं जो अपने बचत को निवेश करके भविष्य की वित्तीय सुरक्षा (financial security) के लिए अपना future सुरक्षित करना चाहते हैं।

2. Institutional Investor Meaning in Hindi

इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर क्या है? इनका अर्थ है संस्थागत निवेशक जो बड़े वित्तीय संस्थान होते हैं जैसे– पेंशन फंड, बीमा कंपनियां, एंडोमेंट और ट्रस्ट फंड जिनहे बड़ी रकम का प्रबंधन करना होता है। निवेशकों के निवेश संबंधी फैसलों में मार्केट रिसर्च और ड्यू डिलिजेंस का हैवी वेटेज होता है।

3. Angel Investor Meaning in Hindi

एंजल इन्वेस्टर क्या है? एंजेल निवेशक धनी व्यक्ति होते हैं जो स्टार्टअप में सीड फंडिंग प्रदान करते हैं। ये निवेशक प्रारंभिक चरण (Initial stage) की उन कंपनियों में निवेश करते हैं जिनकी विकास क्षमता (growth potential) उन्हें आकर्षित करती है।

4. Venture Capitalist Meaning in Hindi

वेंचर कैपिटलिस्ट इन्वेस्टर कौन होते हैं? वेंचर कैपिटलिस्ट पेशेवर निवेश फर्म होते हैं जो उच्च विकास क्षमता वाले स्टार्टअप में निवेश करते हैं। वेंचर कैपिटलिस्ट लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के लिए मशहूर होते हैं और स्टार्टअप्स को मेंटरशिप और विशेषज्ञता भी देते हैं।

5. High Net Worth Individuals (HNWIs) Meaning in Hindi

हाई नेट वर्थ इंडिविजुअल्स यानी HNI Investor क्या होता है? HNWIs अमीर व्यक्ति होते हैं जो करोड़ों रुपये के निवेश पोर्टफोलियो को मैनेज करते हैं। HNWIs डायवर्सिफाइड इन्वेस्टमेंट पोर्टफोलियो के जरिये अपने वेल्थ को ग्रो करते हैं।

6. Passive Investor Meaning in Hindi

Passive Investor का हिंदी अर्थ निष्क्रिय निवेशक होता है क्योंकि इन्हें पैसा कमाने के लिए काम नहीं करना पड़ता बल्कि केवल एक अच्छी जगह निवेश करना काफी होता है। ये लोग लंबी अवधि के निवेश करते हैं जिसका फोकस उन्हें अधिकतम रिटर्न देने में नहीं है, बल्कि उनके निवेश को कम रखरखाव (low-maintenance) रखने में है।

7. Active Investor Meaning in Hindi

यह Passive Investor का बिल्कुल उल्टा होता है। Active Investor को हिंदी में सक्रिय निवेशक कहते हैं. सक्रिय निवेशक अल्पावधि या मध्यम अवधि के लिए निवेश करते हैं जिनका फोकस रिटर्न को अधिकतम करने में होता है। सक्रिय निवेशक बाजार के ट्रेंड और वैश्विक आर्थिक स्थितियों के साथ रहते हैं ताकि वो अपने निवेश के लिए बेस्ट निर्णय ले सकें।

8. Day Traders Meaning in Hindi

Day traders ट्रेडिंग से संबंधित investors होते हैं. डे ट्रेडर्स स्टॉक मार्केट में शॉर्ट टर्म ट्रेड्स के लिए पैसा लगाते हैं जिन्हें अपनी पूंजी पर जल्दी रिटर्न चाहिए होती है। डे ट्रेडर्स मार्केट ट्रेंड्स और स्टॉक के चार्ट की परफॉर्मेंस के साथ-साथ trade करते हैं। इसके अंतर्गत इंट्राडे ट्रेडिंग का ऑप्शन ट्रेडिंग करने वाले लोग आते हैं।

9. Value Investor Meaning in Hindi

वैल्यू इनवेस्टर्स अंडरवैल्यूड कंपनियों के स्टॉक्स को खरीदते हैं ताकि वो जल्दी से ग्रोथ पोटेंशियल को हासिल करें और प्रॉफिट के जरिए रिटर्न जेनरेट करें। value investing करते समय आपको ऐसी कंपनी के शेयर में पैसा इन्वेस्ट करना होता है जिसका P/E Ratio (Price to earning ratio) उसकी इंडस्ट्री के मुकाबले काफी कम होता है।

Value investor का सबसे अच्छा उदाहरण दुनिया के सबसे अमीर इन्वेस्टर ‘वारेन बफेट’ को माना जा सकता है।

10. Growth Investor Meaning in Hindi

ग्रोथ इनवेस्टर्स हाई-ग्रोथ पोटेंशियल कंपनियों के स्टॉक्स को खरीदते हैं ताकि वो लॉन्ग टर्म रिटर्न्स के जरिए अपने वेल्थ को ग्रो कर सकें। यह लोग ऐसे sectors की कंपनियों में पैसा लगाते हैं जिनके business की ग्रोथ भविष्य में बहुत तेजी से हो सकती है

जैसे– आजकल रिन्यूएबल एनर्जी और इलेक्ट्रिक व्हीकल के बारे में कहा जाता है कि यह सेक्टर भविष्य में बहुत तेजी से ग्रोथ दिखा सकते हैं क्योंकि इनकी डिमांड फ्यूचर में बहुत ज्यादा बढ़ने वाली है।

11. Income Investor Meaning in Hindi

इनकम इनवेस्टर्स फिक्स्ड इनकम सिक्योरिटीज और बॉन्ड्स को खरीदते हैं जिससे उन्हें रेगुलर इनकम मिलें। ये ये निवेशक stability और predictability के लिए प्रसिद्ध होते हैं। इसके अलावा जो लोग शेयर मार्केट में कौन कंपनियों के शेयर खरीदते हैं जो हर साल डिविडेंड देती है।

डिविडेंड किसी कंपनी के प्रॉफिट का हिस्सा होता है जो वह अपने शेयरहोल्डर्स को और किसी और की संख्या के आधार पर बांटती है।

12. Speculative Investor Meaning in Hindi

Speculative Investor का हिंदी में मतलब होता है सट्टा निवेशक। सट्टा लगाने वाले निवेशक उच्च जोखिम (high risk), उच्च रिटर्न (high return) निवेश के अवसर ढूंढते हैं। सट्टा लगाने वाले निवेशक बाजार में तेजी से बदलती स्थितियों के साथ invest करते हैं और उनके निवेश के फैसले में उनकी gut feeling भी बड़ा role play करती है।

13. Real Estate Investor Meaning in Hindi

Real Estate Investor रियल एस्टेट प्रॉपर्टी (land, building) और रियल एस्टेट से संबंधित सिक्योरिटीज में पैसा निवेश करते हैं। रियल एस्टेट निवेशक लॉन्ग टर्म ग्रोथ और Rental income के जरिए अपने वेल्थ को ग्रो करने के लिए फोकस रखते हैं।

रियल एस्टेट निवेश में भौतिक संपत्ति के स्वामित्व (physical property ownership) या अचल संपत्ति से संबंधित प्रतिभूतियों (securities) के माध्यम से निवेश किया जा सकता है। रियल एस्टेट investment स्टेबल और प्रेडिक्टेबल रिटर्न के लिए फेमस है।

14. Hedge Fund Investor Meaning in Hindi

हेज फंड निवेशक पेशेवर रूप से प्रबंधित निवेश फंड होते हैं जो शॉर्ट सेलिंग, लीवरेज और वैकल्पिक निवेश के माध्यम से रिटर्न कमाते हैं। हेज फंड हाई नेट वर्थ इंडिविजुअल्स और इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स के लिए होते हैं और investment करने के लिए minimum investment requirement होती है।

हेज फंड्स में high risk होता है क्योंकि इनमे शॉर्ट सेलिंग और लीवरेज का इस्तेमाल होता है ताकि रिटर्न मैक्सिमम किए जा सके।

एक सफल निवेशक कैसे बनें (Investor kaise bane)

How to become a investor in Hindi– एक सफल और Intelligent investor बनने के लिए आपको काफी चीजों का ज्ञान होना अनिवार्य है। आपको बिजनेस और इन्वेस्टमेंट की अच्छी समझ होनी चाहिए क्योंकि इसी नॉलेज के आधार पर आपको Investment decision करने होंगे जो आपका पैसा बढ़ाने यानी wealth creation में मदद करेंगे।

एक सक्सेसफुल इन्वेस्टर बनने के लिए आपको बहुत सारी चीजों के बारे में सोचना पड़ता है अगर आप जानना चाहते हैं कि इन्वेस्टर कैसे बने (Investor kaise bane) तो नीचे दिए गए important points ध्यान से पढ़ें–

  1. अपने निवेश का लक्ष्य तय करो: अपने लंबी-दूरी (long-term) और छोटी-दूरी (short-term) वित्तीय लक्ष्यों को पहचानो, जिनके आधार पर आपके निवेश के निर्णय के लिए आपको सही मार्गदर्शन मिलेगा।
  2. एक सही समय तय करो: अपने निवेश के लिए सही समय का चुनाव करें, जिसे आपको कम समय में अधिक रिटर्न मिल सकें।
  3. एक विविध निवेश पोर्टफोलियो बनाएं: एक ही प्रकार के निवेश में पूरा पैसा एक साथ ना लगाएं बल्कि एक विविध पोर्टफोलियो (diversified portfolio) बनाएं, जिस्मे इक्विटी, डेट, गोल्ड और रियल एस्टेट जैसे कई प्रकार के निवेश हो।
  4. अपने रिस्क टॉलरेंस के बारे में सोच ले: एक समझदार इन्वेस्टर को हमेशा यह सोचना चाहिए कि वह कितना रिस्क ले सकता है और उसी के आधार पर उसे इन्वेस्टमेंट करना चाहिए।
  5. मार्केट और कंपनी की रिसर्च करें: मार्केट और कंपनी के बारे में सही और स्पष्ट जानकारी प्राप्त करें, जिससे आपको सही निर्णय लेने में मदद मिलेगी।
  6. अलग-अलग सेक्टर की कंपनियों में निवेश करें: आपको पूरा पैसा एक ही कंपनी के शेयर में कभी भी नहीं लगाना चाहिए क्योंकि अगर उस कंपनी में कोई बड़ी प्रॉब्लम आती है तो आपका पूरा पैसा डूब जाएगा इसीलिए अलग-अलग सेक्टर की कंपनियों के शेयर में अपने पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाई करना चाहिए।
  7. अपने निवेश को ट्रैक करें: अपनी निवेश का प्रोग्रेस ट्रैक करते रहें जिससे आपको पता चलेगा कि आपके द्वारा किया गया इन्वेस्टमेंट कैसा परफॉर्म कर रहा है ऐसा करने से आप बेहतर रिटर्न हासिल कर पाएंगे।
  8. एक अनुशासित निवेश रणनीति अपनाएं: अपने निवेश के लिए एक अनुशासित रणनीति (disciplined strategy) अपनाएं, और उसी रणनीति के अनुसर ही अपने निवेश को बढ़ाएं। उदाहरण के लिए– अगर आप म्यूच्यूअल फंड में इन्वेस्टमेंट करने की सोचते हैं तो उसे हर महीने या एक निश्चित पीरियड के दौरान लगातार करें ताकि लंबे समय में आपका किया गया निवेश आपको कंपाउंडिंग रिटर्न दे सके.
  9. एक्सपर्ट से सलाह ले: अगर आपको निवेश के बारे में कोई कन्फ्यूजन है, तो एक एक्सपर्ट से सलाह ले। किसी बेकार जगह पैसा निवेश करने से अच्छा है किसी ऐसे व्यक्ति से सलाह लेना जिसे इन्वेस्टमेंट करने का सालों का अनुभव हो।
  10. सब्र और त्याग रखे: निवेश में सब्र यानी patience और त्याग रखना बहुत जरूरी है, एक सफल निवेशक का यह बहुत महत्वपूर्ण गुण है। अगर आप में धैर्य है तो आप लंबे समय तक एक अच्छे इन्वेस्टमेंट को hold कर पाएंगे इसी तरह अगर आप में त्याग की भावना है तो अगर किसी कंपनी में आपका पैसा डूब भी जाता है तो उसमें की गई investment mistake से आप सीखेंगे ना कि उस समय बैठकर अफसोस मनाएंगे।

आशा करता हूं अब तक आप इन्वेस्टर का क्या मतलब होता है (Investor meaning in hindi) और investor kaise bane समझ गए होंगे।

Investor Meaning in Hindi FAQ’s

इन्वेस्टर का क्या मतलब होता है?

इन्वेस्टर का मतलब है होता निवेशक, जो एक व्यक्ति या संस्था होती है जो रूपए निवेश करता है, जिससे वह अपने वित्तीय लक्ष्यों को पूरा कर सके और भविष्य में रिटर्न प्राप्त कर सके।

निवेशक कितने प्रकार के होते हैं?

निवेशक कई प्रकार के होते हैं जैसे कि; खुदरा निवेशक, संस्थागत निवेशक, एंजेल निवेशक, वेंचर कैपिटलिस्ट, HNI’s, निष्क्रिय निवेशक, सक्रिय निवेशक, डे ट्रेडर्स, वैल्यू निवेशक, ग्रोथ निवेशक, आय निवेशक, सट्टा निवेशक, रियल एस्टेट निवेशक, और हेज फंड निवेशक।

निवेशक के क्या काम होते हैं?

निवेशक (investor) का काम है अपने पैसे को किसी कंपनी, स्टॉक, या रियल एस्टेट प्रॉपर्टी में निवेश करना जिससे उन्हें लॉन्ग टर्म प्रॉफिट मिले।

खुदरा निवेशक क्या होता है?

खुदरा निवेशक यानी रिटेल इन्वेस्टर एक इंडिविजुअल person होता है जो stock market या किसी कंपनी में अपने पैसे को इन्वेस्ट करता है।

संस्थागत निवेशक क्या होता है?

संस्थागत निवेशक कोई संगठन, ट्रस्ट, बैंक या बीमा कंपनी होती है जो बड़ी राशि में निवेश करती है।

खुदरा निवेशक और संस्थागत निवेशक में क्या अंतर है?

खुदरा निवेशक (Retail Investor) एक आम व्यक्ति होता है जो छोटे-छोटे निवेश करता है, जबकी संस्थागत निवेशक (Institutional Investor) एक बड़ा संगठन होता है जो बड़े निवेश करता है।

एंजेल इन्वेस्टर क्या होता है?

एंजेल इन्वेस्टर वह व्यक्ति होता है जो स्टार्ट-अप कंपनियों को सीड फंडिंग देता है, जिसकी ग्रोथ और एक्सपेंशन हो सके।

वेंचर कैपिटलिस्ट क्या होता है?

वेंचर कैपिटलिस्ट, एक इन्वेस्टमेंट फर्म होता है जो रिस्क लेने के लिए तैयार होता है, और स्टार्ट-अप कंपनियों को फंडिंग देता है ताकि उनकी ग्रोथ और एक्सपेंशन हो सके।

हाई नेट वर्थ इंडिविजुअल्स क्या होते हैं?

हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल्स बहुत अमीर लोग होते हैं जिनके पास बहुत अधिक पैसे होते हैं और जो निवेश करने के लिए तैयार होते हैं।

Paasive Investor क्या होता है?

Paasive Investor मतलब निष्क्रिय निवेशक वो निवेशक होता है जो अपने पैसे को किसी लंबी अवधि के निवेश में लगा कर मुनाफा कमाना चाहता है, जैसे कि म्यूचुअल फंड या इंडेक्स फंड।

Active Investor क्या होता है?

Active Investor मतलब सक्रिय निवेशक वो निवेशक होता है जो नियमित आधार पर बाजार के ट्रेंड और स्टॉक प्रदर्शन को ट्रैक करता है और अपने निवेश को प्रबंधित करता है।

निष्क्रिय निवेशक और सक्रिय निवेशक में क्या अंतर है?

निष्क्रिय निवेशक (Passive Investor), जो अपने निवेश को दीर्घकालिक निवेश के रूप में रखता है और जिसके निवेश में कोई हस्तक्षेप नहीं होता, जबकी सक्रिय निवेशक (Passive Investor) अपने निवेश में लगातार बदलाव करता है और हस्तक्षेप करता है।

डे ट्रेडर्स क्या होते हैं?

डे ट्रेडर्स वह ट्रेडर्स होते हैं जो स्टॉक मार्केट में इंट्राडे ट्रेडिंग करते हैं, और अपने निवेश को उसी दिन में खरीदते और बेचते हैं।

वैल्यू इन्वेस्टर और ग्रोथ इन्वेस्टर में क्या अंतर है?

वैल्यू इन्वेस्टर, जो अपने निवेश में अंडरवैल्यूड कंपनियों के स्टॉक में ही निवेश करते हैं, जबकी ग्रोथ इन्वेस्टर, जो अपने निवेश में हाई ग्रोथ पोटेंशियल वाली कंपनियां और स्टॉक में निवेश करते हैं।

आय निवेशक और सट्टा निवेशक में क्या अंतर है?

आय निवेशक (Income Investor), जो अपने निवेश में इनकम देने वाले सोर्स जैसे; बॉन्ड और डिविडेंड वाले स्टॉक में निवेश करते हैं, जबकी स्पेकुलेटिव इन्वेस्टर, जो अपने निवेश में हाई रिस्क वाले स्टॉक और ऑप्शंस को निवेश करते हैं।

रियल एस्टेट निवेशक और हेज फंड निवेशक में क्या अंतर है?

रियल एस्टेट निवेशक वह इन्वेस्टर होते हैं जो अपने निवेश में रियल एस्टेट संपत्तियों में निवेश करते हैं, जबकी हेज फंड निवेशक अपने निवेश में हेज फंड और वैकल्पिक निवेश विकल्प में निवेश करते हैं।

Conclusion of ‘Investor Meaning in Hindi’

इस लेख (Investor Meaning in Hindi) में आपने जाना की निवेशक यानी इन्वेस्टर का क्या मतलब होता है, इन्वेस्टर क्या करता है और इन्वेस्टर कैसे बनें.

इस पोस्ट में मैंने पूरा प्रयास किया है कि आपको इन्वेस्टर क्या होता है इसकी विस्तार से नॉलेज दी जाए ताकि आपको इंटरनेट पर इस टॉपिक के बारे में कहीं और पढ़ने की जरूरत ना पड़े। तो अगर आपको हमारा यह प्रयास अच्छा लगे तो इसे सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

5/5 - (6 votes)