कैसे पता करें कल कौन सा शेयर ऊपर जाएगा या नीचे? [9 तरीके]

जानिए कैसे पता करें कल कौन सा स्टॉक बढेगा या गिरेगा, और एक दिन पहले ही कैसे पता करें कि किस शेयर का प्राइस ऊपर जा सकता है? अगर आप भी इसके बारे में जानना चाहते हैं तो यह पोस्ट अंत तक जरूर पढ़ें.

क्योंकि आज मैं आपको कुछ ऐसे तरीके बताने वाला हूं जिनके द्वारा आप आज यानी 1 दिन पहले ही पता लगा सकते हैं कि कल मार्केट में किस शेयर का दाम बढ़ सकता है.
कैसे पता करें शेयर की कीमत बढ़ेगी या घटेगी?
How to know share price will go up or down?

लेकिन आगे बढ़ने से पहले मैं आपको बता दूं कि यह पता करना कि किसी शेयर का भाव ऊपर जाएगा या नीचे, इसकी कोई 100% गारंटी नहीं होती, लेकिन कुछ ऐसे फैक्टर्स होते हैं जिनके द्वारा आप काफी हद तक 80-90% शेयर बढ़ने या गिरने का अनुमान लगा सकते हैं।

इस पोस्ट में आप जानेंगे-

एक दिन पहले ही कैसे पता करें शेयर की कीमत बढ़ेगी या घटेगी?

दोस्तों किसी शेयर की कीमत बढ़ेगी या घटेगी इसके लिए मैं आपको जो तरीके बताने वाला हूं वह शेयर मार्केट के बड़े-बड़े इन्वेस्टर्स और ट्रेडर्स भी use करते हैं और इसीलिए यह सभी तरीके निश्चित ही आपको भी बाजार में प्रॉफिट कमाने में मदद करेंगे.

Share price को predict करने का सबसे पहला तरीका है–

1. स्टॉक का कैंडलस्टिक चार्ट पेटर्न देखें

कैंडलस्टिक पेटर्न आपको बताता है कि चार्ट पर शेयर प्राइस कब ऊपर जा सकता है और कब नीचे…

जानिए कैंडलस्टिक पेटर्न से पता करें शेयर ऊपर जाएगा या नीचेमान लो आप tradingview या अन्य किसी trading app जैसे upstox, zerodha आदि पर किसी शेयर का चार्ट देखते हैं तो आपको लाल और हरी रंग की अलग-अलग प्रकार की कैंडल्स नजर आती है.

  • इनमें कुछ कैंडल्स बड़ी होती है तो कुछ छोटी. प्रत्येक कैंडल बॉडी और बिक (शैडो) दो चीजों से मिलकर बनी होती है।
  • और यही लाल और हरी कैंडल्स मिलकर कैंडलस्टिक चार्ट पेटर्न का निर्माण करती हैं. हरी कैंडल शेयर प्राइस ऊपर जाने का संकेत देती है जबकि लाल कैंडल शेयर प्राइस के गिरने के बारे में बताती है।

मान लो अगर किसी आज आप किसी स्टॉक का चार्ट देख रहे हैं और उस पर लगातार हरी कैंडल बनती हुई दिख रही है तो इसका मतलब है कि कल उसे शेयर का प्राइस ऊपर जा सकता है. ठीक इसके विपरीत अगर लगातार लाल कैंडलस्टिक बनती है तो अगले दिन शेयर की कीमत गिरने का संकेत है।

दोस्तों शेयर के चार्ट पर आपको नीचे दी गई कैंडल्स बार-बार बनती हुई दिखाई देती है–

    • हैमर: यह हरे रंग की बुलिश कैंडल होती है जिसका आकार हथौड़े के जैसा होता है मतलब ऊपर छोटी सी बॉडी होती है और इस कैंडल की wick यानी शैडो, बॉडी की लगभग दो गुना होती है. अगर किसी स्टॉक के चार्ट पर यह कैंडल बनती है तो यह बताती है कि उस शेयर का प्राइस ऊपर जाने वाला है।

आपको बता दें कि अगर यह कैंडल डाउनट्रेंड में बनती है तो इस कैंडल के बनने के बाद शेयर का प्राइस ज्यादा तेजी से ऊपर जाने की संभावना होती है।
  • हैंगिंग मैन: यह कैंडल हैमर की बिल्कुल उल्टी होती है। इसका आकार भी हथौड़ी की तरह है लेकिन यह लाल रंग की bearish कैंडल होती है जोकि चार्ट पर uptrend में बनती है और शेयर प्राइस गिरने का अनुमान देती है।

  • मारूबोजू: यह एक फुल बॉडी मजबूत कैंडल होती है यानी कि इसकी shadow बिल्कुल ना के बराबर होती है। अगर कैंडलस्टिक चार्ट पर हरी मारूबोजू कैंडल बनती है तो आगे चलकर शेयर प्राइस ऊपर जाएगा और लाल मारूबोजू कैंडल बनती है तो शेयर प्राइस नीचे जाएगा.
    • डोजी: यह कैंडल भी आपको चार्ट पर कई बार बनते हुए दिखती है. इसकी बॉडी बिल्कुल ना के बराबर होती है और यह कैंडल अधिकतर sideways मार्केट में बनती है मतलब जब किसी शेर का प्राइस ना ऊपर और ना ही नीचे move करके किसी एक ही रेंज में घूमता रहता है तो इस प्रकार की डोजी कैंडल बनती हैं।

    अगर आपको चार्ट पर ऐसा डोजी कैंडल दिखता है जिसकी बॉडी ऊपर की तरफ छोटी सी दिखाई दे रही हो जबकि शैडो या विक नीचे की ओर बहुत लंबी हो तो यह शेयर प्राइस ऊपर जाने का संकेत है.और जब इसका उल्टा नीचे की तरफ छोटी सी बॉडी और ऊपर की तरफ लंबी vik वाली डोजी कैंडल बनती है तो समझ चाहिए कि यहां से शेयर प्राइस गिर सकता है।

    तो ऊपर बताई गई चारों कैंडल्स सबसे ज्यादा पॉपुलर है और चार्ट पर आपको यही चार कैंडल सबसे ज्यादा बनते हुए दिखेगी.मान लो आप आज पता करना चाहते हैं कि कल कौन सा स्टॉक बढ़ेगा तो उस स्टॉक का 1 day timeframe का कैंडलस्टिक चार्ट ओपन करें और देखें कि चार्ट पर आज कौन सा कैंडल बना है.

    जैसे– अगर आज चार्ट पर हैमर जैसा कोई बुलिश कैंडल बना है तो कल के दिन उस शेयर का प्राइस ऊपर जाने की उम्मीद है और हैंगिंग मैन या अन्य कोई bearish कैंडल बना है तो कल शेयर प्राइस नीचे जा सकता है।Related:

    2. शेयर की डिलीवरी पोजीशन चेक करें

    डिलीवरी पोजीशन का मतलब है कि किसी स्टॉक में आज निवेशकों ने कितनी पोजीशंस बनाई है यानी कि कितने शेयरों को आज डिलीवरी के तौर पर खरीदा गया है।Kal kiska share badhega

    उदाहरण के लिए
    • मान लो अगर आज मार्केट बंद होते समय कोई बड़ा इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर टाटा मोटर्स कंपनी के 10 लाख शेयर्स खरीद लेता है तो जाहिर सी बात है कि कल टाटा मोटर्स कंपनी का share price बहुत तेजी से ऊपर जाएगा.
    • और अगर कोई बड़ा इन्वेस्टर जैसे FII या DII किसी कंपनी के बड़ी मात्रा में शेयर बेच देता है तो अगले दिन उसे शेयर में गिरावट होने की संभावना होती है।

    तो अगर आप किसी शेयर की डिलीवरी पोजीशन पहले ही चेक कर लेते हैं मतलब पता लगा लेते हैं कि आज कि स्टॉक में बड़ा माल खरीदा गया है तो अगले दिन आप उसे शेयर में खरीददारी करके अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं।

    किसी स्टॉक की डिलीवरी पोजीशन चेक करने के लिए आप नीचे दिए गए स्टेप्स फॉलो कर सकते हैं–

    • सबसे पहले आपको नेशनल स्टॉक एक्सचेंज यानी NSE की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
    • इसके बाद ऊपर सर्च बॉक्स में आपको उस कंपनी का नाम लिखकर सर्च करना है जिसकी डिलीवरी पोजीशंस आप चेक करना चाहते हैं।
    • अब आपको इस पेज को नीचे स्क्रॉल करना है जहां पर आपको stock की delivery positions दिख जाएगी। मतलब आज कितनी क्वांटिटी में शेयर ट्रेड किये गए हैं।
    • इसी के बगल में आपको ‘% of Deliverable Quantity to Traded Quantity‘ लिखा हुआ दिखाई देगा
    डिलीवरी पोजीशन देखकर पता करें किसका शेयर बढ़ेगाअगर यह 50% से ज्यादा है तो अगले दिन आपके द्वारा सर्च की गई कंपनी का शेयर प्राइस बढ़ने के हाई चांसेस हैं।

    3. शेयर का ट्रेडिंग वॉल्यूम चेक करके

    ट्रेडिंग वॉल्यूम किसी पार्टिकुलर टाइमफ्रेम में ट्रेड किए गए शेयरों की संख्या को दर्शाता है।वॉल्यूम देखकर पता करें शेयर की कीमत बढ़ेगी या घटेगीकिसी भी शेयर का ट्रेडिंग वॉल्यूम चेक करके आप एक दिन पहले ही पता लगा सकते हैं कि कल उस शेयर की कीमत बढ़ेगी या घटेगी।अगर buying side वॉल्यूम ज्यादा है तो कल स्टॉक ऊपर जाएगा और अगर selling side ज्यादा है तो कल वह शेयर नीचे जाएगा।

    आप tradingview या moneycontrol जैसी वेबसाइट पर जाकर किसी भी शेयर का ट्रेडिंग वॉल्यूम चेक कर सकते हैं। जब आप किसी शेयर का चार्ट देखते हैं तो उस चार्ट पर नीचे की ओर लाल और हरी लंबी- लंबी रेखाएं दिखती है यह रेखाएं उस शेयर के वॉल्यूम को दर्शाती हैं।

    1. सबसे पहले आपको किसी भी स्टॉक का 1 day टाइम फ्रेम का चार्ट खोलना है ताकि जितनी भी कैंडल आपको चार्ट पर दिखाई देगी वह सभी एक दिन वाली कैंडल होगी.
    2. अब आपको चार्ट पर सबसे लास्ट वाली कैंडल देखना है वह हरी है या लाल.
    3. उस कैंडल के ठीक नीचे आपको वॉल्यूम रेखाएं दिखाई देगी उन पर आपको क्लिक करना है या फिर माउस का कर्सर लेकर जाना है.
    4. ऐसा करते ही आपके ऊपर साइड में ट्रेडिंग वॉल्यूम का नंबर दिखाई दे जाएगा मतलब आज कितने शेयरों को ट्रेड किया गया है।
    5. आप बस इतना याद रखिए कि– अगर वॉल्यूम की रेखा ग्रीन है और जितनी बड़ी है कल उतनी ही तेजी से स्टॉक ऊपर जाने की संभावना है और इसके विपरीत अगर वॉल्यूम लाइन रेड यानी लाल है तो कल शेयर गिरने की संभावना है।

    4. सपोर्ट और रेजिस्टेंस देखकर पता करें शेयर कब बढ़ेगा

    चार्ट पर सपोर्ट और रेजिस्टेंस देखकर आसानी से पता लगा सकते हैं कि कोई शेयर up जाएगा या down.सपोर्ट और रेजिस्टेंस से पता करें शेयर का भाव कब बढ़ेगाआपको यह तो पता होगा ही की support level वह होता है जहां से टकराकर प्राइस ऊपर की ओर बढ़ना शुरू होता है जबकि resistance वह लेवल होता है जहां से टकराकर प्राइस नीचे गिरने लगता है।

    उदाहरण के लिए– मान लो आप पता करना चाहते हैं कि कल Zomato का शेयर प्राइस बढ़ेगा या गिरेगा?

    • तो इसके लिए सबसे पहले आपको किसी भी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाकर जोमैटो का कैंडल चार्ट ओपन करना है.
    • अब आपको 15 मिनट टाइमफ्रेम पर सपोर्ट और रेजिस्टेंस रेखाएं खींचनी है।
    • मान लो जोमैटो शेयर का सपोर्ट लेवल 160 रुपये और रेजिस्टेंस लेवल 180 रुपये है. और अभी इसका करंट शेयर प्राइस 172 रुपये है।
    • अब अगले दिन मार्केट खुलते ही आपको यह देखना है कि स्टॉक सपोर्ट और रेजिस्टेंस में से जिस भी लेवल को ब्रेक करता है उस तरफ एक बड़ा move आने की संभावना है।
    • मान लो अगर कल zomato का stock 180 Rs का रेजिस्टेंस लेवल तोड़ देता है तो यहां से स्टॉक में एक बड़ा rise देखने को मिल सकता है और अगर यह शेयर नीचे की ओर 160 Rs के सपोर्ट लेवल को तोड़ देता है तो आगे चलकर शेयर में गिरावट आने की संभावना बहुत ज्यादा है।

    5. मार्केट सेंटीमेंट देखकर पता लगाएं शेयर ऊपर जाएगा या नीचे

    मार्केट सेंटीमेंट से पता करें kal konsa stock upar jayega
    How to predict tomorrow share price in hindi
    कई बार आपने देखा होगा कि किसी कंपनी के फंडामेंटल मजबूत हैं, तिमाही नतीजे भी शानदार आए हैं, कंपनी सेल्स और प्रॉफिट भी अच्छा जनरेट कर रही है और इंडस्ट्री में भी कोई प्रॉब्लम नहीं है उसके बावजूद भी शेयर प्राइस में गिरावट देखी जाती है।

    ऐसा अधिकतर तब होता है जब पूरे मार्केट का सेंटीमेंट नेगेटिव हो मतलब लोगों को लगता है कि आगे चलकर बाजार गिरने वाला है तो ऐसी स्थिति में अच्छे शेयर भी गिरने लगते हैं।

    और मार्केट सेंटीमेंट पॉजिटिव होने पर ठीक इसका उल्टा होता है मतलब पेनी स्टॉक्स जैसी कंपनियां भी 100-200% रिटर्न आसानी से दे देती हैं

    आपने 2020 के मार्केट क्रैश में देखा होगा की अच्छी-अच्छी फंडामेंटली मजबूत कंपनियों के शेयर प्राइस गिर रहे थे जबकि उनके बिजनेस में कोई प्रॉब्लम नहीं थी और ठीक इसका उल्टा जब मार्केट रिकवर होना शुरू हुआ यानी bull run की शुरुआत हुई तो बहुत सारे खराब फंडामेंटल वाले सस्ते शेयर भी रॉकेट की तरह बढ़ने लग गए।

    तो अगर आज मार्केट बंद होने के बाद ग्लोबल बाजारों की ओर से कोई नेगेटिव खबर आती है जिससे Dow jones या Nasdaq काफी down चले गए तो अगले दिन पूरे बाजार का सेंटीमेंट यानी माहौल नेगेटिव रहेगा जिससे अधिकतर स्टॉक में गिरावट रहने की संभावना होती है।

    6. स्टॉक से संबंधित न्यूज़ पर नजर रखें

    किसी भी शेयर के गिरने या बढ़ने में उसे कंपनी से संबंधित न्यूज़ का बहुत बड़ा हाथ होता है। जैसे अभी आपने देखा था कि RBI के द्वारा पेटीएम पर नियमों को ठीक से ना फॉलो करने का आरोप लगाया गया था जिसके बाद  पेटीएम का शेयर एक ही दिन में 20% गिर गया.

    और फिर जब किसी बड़ी रेटिंग एजेंसी की ओर से यह खबर आई कि उन्होंने पेटीएम के लाखों शेयर्स में पोजीशंस बनाई है तो वापस हमें यह शेयर बढ़ते हुए देखने को मिला.

    बहुत सारे शेयरों में डेली कोई ना कोई खबर आती रहती है चाहे वह–

    • उस सेक्टर से संबंधित कोई खबर हो,
    • मैनेजमेंट का कोई बयान सामने आया हो,
    • कंपनी ने अपने तिमाही नतीजे पेश किए हो,
    • या फिर कंपनी को कहीं से कोई बड़ा ऑर्डर मिला हो

    तो इस प्रकार की खबरों के चलते stocks में हमें उतार-चढ़ाव देखने को मिलते रहते हैं। लेकिन एक बात साफ है कि अगर आज किसी स्टॉक की पॉजिटिव न्यूज़ आती है कंपनी ने अपनी तिमाही नतीजे में जबरदस्त प्रॉफिट दिखाई तो अगले दिन वह स्टॉक तेजी से ऊपर जा सकता है।

    7. ओपन इंटरेस्ट (OI) से शेयर बढ़ने या घटने का अनुमान लगाए

    अगर आप शेयर बाजार में ट्रेडिंग करते हैं तो आपने ऑप्शन चेन के बारे में जरूर सुना होगा.
    Open interest se pata kare kal konsa share upar jayega
    Nifty prediction by option chain
    NSE वेबसाइट पर जाकर आप किसी भी शेयर या फिर nifty और बैंकनिफ्टी की ऑप्शन चेन देख सकते हैं। यह कॉल या पुट ऑप्शंस में लोगों ने कितनी पोजीशंस बना रखी हैं उसके बारे में बताती है।

    ऑप्शन चैन डेटा में ही सबसे पहला कॉलम होता है ओपन इंटरेस्ट यानी OI का. यह कॉल (CE) और पुट (PE) दोनों साइड होता है।

    1. सबसे पहले आपको किसी भी शेयर की ऑप्शन चैन खोलना है. उदाहरण के लिए– ‘ACC’
    2. आपको बस स्टॉक का ‘SYMBOL’ सेलेक्ट करना है. अब जो पेज खुलेगा उसमें आपको सिर्फ इतना देखना है कि कॉल या पुट में से किस साइड ओपन इंटरेस्ट ज्यादा है और कितना ज्यादा है.
    3. मान लो किसी शेयर के करंट स्ट्राइक प्राइस पर कॉल साइड ओपन इंटरेस्ट (OI) 10000 है और और पुट साइड सिर्फ 500 है। तो इसका मतलब है कि कल वह स्टॉक ऊपर जाएगा.
    4. और अगर CE की बजाए PE साइड ओपन इंटरेस्ट ज्यादा है तो वह वह शेयर गिरेगा।

    8. कंपनी के ADR की परफॉर्मेंस चेक करें

    ADR का मतलब है अमेरिकन डिपॉजिटरी रिसिप्ट यानी कि वह शेयर जो इंडिया के बाहर किसी अन्य देश के स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड होते हैं उन्हें ADR बोलते हैं।

    • उदाहरण के लिए– HDFC Bank, ICICI Bank, Nestle, Infosys और wipro जैसी कई कंपनियों के ADR विदेशों में लिस्टेड हैं.

    ADR देखकर पता करें शेयर की कीमत बढ़ेगी या घटेगी?अब आपको पता होगा कि हमारा शेयर बाजार और दूसरे देशों के शेयर बाजार की खुलने और बंद होने की टाइमिंग अलग-अलग होती है।

    तो मान को आज ‘NYSE’ यानी न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड wipro कंपनी के ADR में 4% की तेजी देखी जाती है तो बहुत चांसेस है कि कल हमारा बाजार खुलते ही wipro का शेयर प्राइस बढ़ने की काफी संभावना है।

    9. GIFT Nifty देखें

    Gift Nifty का नाम पहले सिंगापुर निफ़्टी (SGX NIFTY) हुआ करता था क्योंकि निफ्टी के सभी डेरिवेटिव्स यानी फ्यूचर कांट्रैक्ट सिंगापुर स्टॉक एक्सचेंज पर ट्रेड होते थे और पिछले कई सालों से लोग SGX Nifty देखकर ही यह पता लगाते थे कि आज हमारा निफ्टी कैसे खुलेगा क्योंकि सिंगापुर निफ़्टी हमसे पहले खुल जाता था.

    लेकिन जुलाई 2023 में SGX nifty पर ट्रेडिंग बंद कर दी गई और इसके 750 करोड डॉलर के future contracts को NSE IX यानी NSE इंटरनेशनल एक्सचेंज पर शिफ्ट कर दिया गया.
    • Gift Nifty का पहला सेशन सुबह 6:30 बजे खुल जाता है जिससे आपको पता चलता है कि आज हमारा Nifty कैसा रहेगा, मतलब ऊपर जाएगा या नीचे इसका थोड़ा बहुत prediction आपको पहले ही पता लग जाता है.

    अगर आप सोच रहे हैं कि हम कैसे सुबह मार्केट खुलने से पहले गिफ्ट निफ्टी को चेक कर सकते हैं तो इसके लिए आपको NSE IX की वेबसाइट (https://www.nseix.com) पर जाना होगा, इस वेबसाइट पर आपको गिफ्ट निफ्टी का सारा डेटा दिख जाएगा और बहुत चांसेस है कि उसी के अनुसार हमारा मार्केट भी खुलेगा.

    तो यह थे कुछ ऐसे तरीके जिनके द्वारा आप पता कर सकते हैं कि कल किस शेयर का प्राइस ऊपर जा सकता है।

    शेयर मार्केट सीखने के लिए बेस्ट कोर्स

    दोस्तों अगर आप शेयर मार्केट को बेसिक से एडवांस तक हिंदी में सीखना चाहते हैं तो यहां पर मैं आपको इंडिया के ‘बेस्ट शेयर मार्केट कोर्स‘ के बारे में बताना चाहता हूं जिसके द्वारा आप share market को step by step learn कर सकते हैं। अगर आप शेयर मार्केट कोर्स खरीदने में interested हैं तो आपको एक बार इस कोर्स को जरूर लेना चाहिए 👍👉मैं आपको बता दूं कि इस कोर्स में आपको beginner से advance level तक शेयर मार्केट को वीडियोस और PDF के माध्यम से बहुत ही सरल तरीके से प्रैक्टिकल उदाहरण के साथ समझाया गया है। आज तक जितने भी लोगों ने यह कोर्स लिया है सबने इसकी तारीफ ही की है।🙂तो अगर आप भी शेयर मार्केट को शुरू से अंत तक सीखना चाहते हैं और शेयर मार्केट में इन्वेस्टिंग और ट्रेडिंग के द्वारा अमीर बनना चाहते हैं एक बार आपको यह शेयर मार्केट कोर्स जरूर खरीदना चाहिए.जानिए इस कोर्स में आपको क्या-क्या सीखने को मिलेगा– Share Market Full Course in Hindiनीचे दी गई इमेज पर क्लिक करके आप इस ‘बेस्ट शेयर मार्केट कोर्स’ को डायरेक्ट खरीद सकते हैं–Share market course in hindi
    चलिए अब इस टॉपिक से जुड़े हुए कुछ बेसिक सवाल और उनके जवाब जान लेते हैं–

    How to know which share will go up tomorrow – FAQ’s

    क्या सच में एक दिन पहले ही पता कर सकते हैं कि कल कौन सा शेयर बढ़ने वाला है?

    अगर आप एक दिन पहले ही पता लगाना चाहते हैं कि कल कौन सा शेयर बढ़ेगा तो आप उस शेयर का चार्ट पैटर्न देखकर, फंडामेंटल और टेक्निकल एनालिसिस करके, तकनीकी इंडिकेटर देखलर, स्टॉक का ट्रेडिंग वॉल्यूम और ADR चेक करके पता कर सकते हैं कि कि शेयर का प्राइस बढ़ सकता है।

    कैसे पता करें किसी शेयर की कीमत बढ़ेगी या गिरेगी?

    वैसे तो शेयर प्राइस बढ़ेगा या गिरेगा इसका अनुमान लगाने के लिए मैंने ऊपर कई तरीके बताए हैं लेकिन जो सबसे अच्छा तरीका है वह है– NSE पर जाकर स्टॉक की डिलीवरी पोजीशंस चेक करना. अगर किसी कंपनी के बड़ी मात्रा में शेयर खरीदे गए हैं तो अगले दिन उस शेयर की कीमत बढ़ेगी और अगर पोजीशंस काटी गई हैं तो next day वह शेयर गिरेगा।
    ये भी पढ़ें
    4.2/5 - (57 votes)